e-TDS

Corrected/Revised Return Corrections in Salary Details

Yes. You can update a salary detail record.

You can update salary details viz; Name and PAN of employee, salary amount, deductions etc. Steps for updating salary record are as under:

  • Identify the salary detail record by
    • its sequence number as per regular statement
    • Value in the field ‘Gross total Income’ as per regular statement.
  • Update the salary details as required
  • Along with updated values, Gross Total Income as per regular statement should also be provided in the correction statement.

Yes. You can add a salary record..

You can add a new salary records as per following procedure.

1. Maintain the sequence of the new challan record in continuation to the sequence number of the last challan as per regular statement and add details of challan in this record..

Example Regular statement filed by you has three salary records and you wish to add one more salary record

1. Sequence of new record being added should be 4 in the Annexure II.

2. Add new salary record.

Yes. You can delete a salary record.

Steps for deleting a salary record are as under:

  • Identify the salary record to be deleted by
    • its sequence number as per regular statement
    • Gross total income as per regular statement
  • Flag the salary detail record to be deleted.
  • Along with flag for deletion, correction statement should also contain value of the field Gross total Income as per regular statement.

No, the fields TAN, Form no., quarter, FY and A.Y quoted in a regular statement cannot be updated by furnishing a correction statement

While preparing a correction statement, the record to be updated/deleted is required to be identified by its sequence number as well as values of certain fields as per regular statement. List of fields used for identifying a record are as under:

1. Challan detail – CIN details and deposit amount
2. Deductee detail – PAN of the deductee, total tax deducted and total tax deposited
3. Salary details – Gross total income.

The correction statement should contain values of the fields referred to above as per regular statement along with the corrections made. Once the correction statement is received at TIN central system, the values of the identification fields are verified with the corresponding values as per TIN central system.

If the values match, the correction statement will get accepted. If the values do not match, the correction statement will get rejected at the TIN central system.

Example: If the value in the field Last Bank challan no. (i.e. challan no. as per regular statement) in the correction statement does not match the corresponding details as per the regular statement in the TIN central system, the correction statement will get rejected for the reason “Last Bank challan serial number of the correction statement is not matching with corresponding statement details available at TIN Central system”.

Once the challan is updated with status ‘Booked’ modifications or rectifications to the details of the said challan are not allowed. As a result any correction TDS/TCS statement with modifications/rectifications on a booked challan will get rejected at the TIN central system.

जी, हां. आप वेतन विवरण रिकॉर्ड को अपडेट कर सकते हैं.

आप वेतन विवरण यानि कर्मचारी का नाम तथा पैन, वेतन राशि, कटौतियां आदि को अपडेट कर सकते हैं. वेतन रिकॉर्ड को अपडेट करने के कदम निम्‍नानुसार हैं:

  • वेतन विवरण रिकॉर्ड की निम्‍न द्वारा पहचान करें-
  • नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार उसकी क्रम संख्‍या
  • नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार ‘Gross Total Income’ फील्‍ड में मूल्‍य
  • अपेक्षानुसार वेतन रिकॉर्ड को अपडेट करें.
  • अपडेट किए गये मूल्‍यों के साथ नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार सकल कुल आय भी संशोधन स्‍टेटमेंट में दी जानी चाहिए.

जी, हां. आप वेतन रिकॉर्ड जोड़ सकते हैं.

आप निम्‍नलिखित प्रक्रिया के अनुसार नये वेतन रिकॉर्ड जोड़ सकते हैं :

१ . नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार पिछले चालान के अनुक्रम में नये चालान रिकॉर्ड का क्रम रखें और इस रिकॉर्ड में चालान के विवरण जोड़ें.

उदाहरण : आपके द्वारा फाइल किए गए नियमित स्‍टेटमेंट में तीन वेतन रिकॉर्ड हैं तथा आप एक और वेतन रिकॉर्ड जोड़ना चाहते हैं.

१ . जोड़े जा रहे नये रिकॉर्ड का क्रम अनुबंध II में ४ होना चाहिए.

२. नया वेतन रिकॉर्ड जोड़ें.

जी, हां. आप किसी वेतन रिकॉर्ड को डिलीट कर सकते हैं.

वेतन रिकॉर्ड डिलीट करने के लिए कदम निम्‍नानुसार हैं:

  • डिलीट किए जाने वाले वेतन रिकॉर्ड की निम्‍न द्वारा पहचान करें-
  • नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार उसकी क्रम संख्‍या
  • नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार सकल कुल आय
  • डिलीट किए जाने वाले वेतन विवरण रिकॉर्ड को फ्लैग करें.
  • डिलीशन हेतु फ्लैग के साथ नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार सकल कुल आय फील्‍ड का मूल्‍य भी संशोधन स्‍टेटमेंट में होना चाहिए.

जी, नहीं. नियमित स्‍टेटमेंट में उद्धृत किए गए फील्‍ड टैन, फॉर्म सं., तिमाही, वित्‍तीय वर्ष और कर-निर्धारण वर्ष को संशोधन स्‍टेटमेंट प्रस्‍तुत करके अपडेट नहीं किया जा सकता है.

संशोधन स्‍टेटमेंट तैयार करते समय, अपडेट / डिलीट किए जाने वाले रिकॉर्ड की पहचान नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार उसकी क्रम संख्‍या और कुछ फील्‍डों के मूल्‍य द्वारा की जानी होती है. किसी रिकॉर्ड की पहचान करने के लिए प्रयुक्‍त फील्‍डों की सूची निम्‍नानुसार है:

१ . चालान विवरण – सीआईएन विवरण और जमा राशि

२. डिडक्‍टी का विवरण – डिडक्‍टी का पैन, काटा गया कुल कर और जमा किया गया कुल कर.

३. वेतन का विवरण – सकल कुल आय

संशोधन विवरण में किए गए संशोधनों के साथ नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार ऊपर संदर्भित फील्‍डों के मूल्‍य (वैल्‍यूज़) होने चाहिए. संशोधन स्‍टेटमेंट के टिन केन्‍द्रीय प्रणाली में प्राप्‍त हो जाने पर पहचान फील्‍डों के मूल्‍यों का टिन केन्‍द्रीय प्रणाली के अनुसार अनुरूपी मूल्‍यों से सत्‍यापन किया जाता है.

मूल्‍यों में सुमेल होने पर संशोधन विवरण स्‍वीकार हो जाएगा. मूल्‍यों में मेल न होने पर संशोधन स्‍टेटमेंट टिन केन्‍द्रीय प्रणाली में अस्‍वीकार हो जाएगा.

उदाहरण: यदि संशोधन स्‍टेटमेंट में फील्‍ड अंतिम बैंक चालान सं. (अर्थात् नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार चालान सं.) में मूल्‍य टिन केन्‍द्रीय प्रणाली में नियमित स्‍टेटमेंट के अनुसार अनुरूपी ब्‍यौरे से मेल नहीं खाता है तो संशोधन विवरण “संशोधन स्‍टेटमेंट में अंतिम बैंक चालान क्रम संख्‍या टिन केन्‍द्रीय प्रणाली में उपलब्‍ध अनुरूपी स्‍टेटमेंट ब्‍यौरे से मेल नहीं खा रहा है” कारण से अस्‍वीकार हो जाएगा.

चालान के ‘Booked’ स्‍टेटस के साथ अपडेट हो जाने पर उक्‍त चालान के विवरणों में परिवर्तन या परिशोधन की अनुमति नहीं है. इसके परिणामस्‍वरूप, बुक किए गए चालान पर किसी परिवर्तन/ परिशोधन के युक्‍त संशोधन स्‍टेटमेंट टिन केन्‍द्रीय प्रणाली में अस्‍वीकृ‍त हो जाएगा.