TDS on Sale of Property

FAQ's / TDS on property

General

The Finance Bill 2013 has proposed that purchaser of an immovable property (other than rural agricultural land) worth ₹ 50 lakh or more is required to pay withholding tax at the rate of 1% from the consideration payable to a resident transferor

According to rules in respect of tax deducted at source, buyer of the property would have to deduct the TDS and deposit the same in Government treasury.

Buyer or Purchaser of the property is not required to procure Tax Deduction Account Number (TAN). The Buyer is required quote his or her PAN and sellers PAN.

PAN of the seller is mandatory. The same may be acquired from the Seller before effecting the transaction.

The Buyer of the property (deductor of tax) has to furnish information regarding the transaction online on the TIN website i.e. www.tin-nsdl.com. After successfully providing details of transaction deductor can:

  • Either make the payment online (through e-tax payment option) immediately;
  • Or make the payment subsequently through e-tax payment option (net-banking account) or by visiting any of the authorized Bank branches. However, such bank branches will make e-payment without digitization of any challan. The bank will get the challan details from the online form filled on TIN website (www.tin-nsdl.com)  

If any problem is encountered at the NSDL e-Gov website while entering details in the online form, then contact the TIN Call Center at 020 - 27218080 or write to us at tininfo@nsdl.co.in (Please indicate the subject of the mail as Online Payment of Direct Tax_ TDS on sale of property).

The online form available on the TIN website for furnishing information regarding TDS on property is termed as Form 26QB

As per the CBDT notification no. 30/2016 dated April 29, 2016, the due date of payment of TDS on transfer of immovable property has been extended to thirty days (from existing seven days) from the end of the month in which the deduction is made.

Example: If a taxpayer has made payment of sale consideration in the month of February, then corresponding TDS should be deposited on or before (thirty days) March 30th.

a) Acknowledgment number for the Form 26QB furnished is available in the Form 26AS (Annual Tax Statement) of the Deductor (i.e. Purchaser/ Buyer of property). The same can be viewed from the TRACES website (www.tdscpc.gov.in) or
b) Taxpayer can also click the option ‘View Acknowledgment’ hosted on the TIN website. Taxpayer needs to enter PAN of the Buyer and Seller, Total Payment and Assessment Year (as mentioned at the time of filing the Form 26QB) to retrieve the Acknowledgment Number.

You may access the access the link “E-tax on subsequent date” on the TIN website. On entering the details as per the acknowledgment slip, you will be provided options to Print the Form 26QB.

Form 16B is the TDS certificate to be issued by the deductor (Buyer of property) to the deductee (Seller of property) in respect of the taxes deducted and deposited into the Government Account.

Form 16B will be available for download from the website of Centralized Processing Cell of TDS (CPC-TDS) www.tdscpc.gov.in

For example, If amount of   property sold is ₹ 70 Lakhs, would TDS be calculated at ₹ 20 Lakhs or on ₹70 Lakhs?
TDS is to be deducted on the amount paid/credited to the seller. In the above e.g. the deduction will be on total amount i.e. on ₹ 70 Lakhs.

Buyer may approach any of the authorized Bank Branch to facilitate in making e-payment.

e-payment of taxes at subsequent date will be linked to the FORM 26QB based on Acknowledgement number generated at the time of filing of Form 26QB.

Online statement cum challan Form/ Form 26QB is to be filled in by each buyer for unique buyer-seller combination for respective share. E.g. in case of one buyer and two sellers, two forms have to be filled in and for two buyers and two seller, four forms have to be filled in for respective property shares.

Provision to enter Tax amount (comprising of basic tax, interest and fee) in Form 26QB is given in TIN website and Bank's site.

The TDS amount as per Form 26QB should be entered in the field 'Basic Tax' (Income Tax) on the Bank's web-portal as TDS certificate (Form 16B) will be based on 'Basic Tax' (Income Tax) only.

As per section 234E of the IT Act, 1961 read with Rule 31A (4A) of IT rules, 1962, failure on the part of taxpayer to furnish challan-cum-statement in Form No. 26QB electronically within 30 days from the end of the month in which the tax deduction is made will attract levy of fee to be paid by the buyer/transferee/payer.

Payment through e-tax payment option immediately

E-Payment facilitates payment of taxes online by taxpayers. To avail this facility the taxpayer is required to have a net-banking account with any of the Authorized Banks. Please follow the steps as under to pay tax online:-

Step 1

  1. Log on to NSDL e-Gov-TIN website (www.tin-nsdl.com).
  2. Click on the option “Furnish TDS on property”.
  3. Select Form for Payment of TDS on purchase of Property.

Step 2

After selecting the form you will be directed to the screen for entering certain information.

Example:-

a) Permanent Account Number (PAN) of Property Purchaser and Seller.
b) Address of the Purchaser, Seller as well as the Property being purchased
c) Financial/AssessmentYear will be populated on the basis of Date of Payment/Credit selected in the Form.
d) Major Head Code - To indicate the type of tax applicable viz; Tax on companies/Tax on other than companies
e) Value of Property
f) Date of agreement/booking
g) Amount Paid/credited (Transaction amount)
h) Rate of TDS
i) TDS Amount
j) Dates of payment/credit, deduction
k) Select the option for “Payment of taxes immediately”

It is important to ensure that PAN of Buyer and Seller are correctly mentioned in the form. There is no online mechanism for subsequent rectification. Deductor will have to approach the Assessing Officer or CPC-TDS for rectification of errors.

Step 3

After entering all the above detail, click on PROCEED button. The system will check the validity of PAN. In case PAN is not available in the database of the Income Tax Department then you cannot proceed with the payment of tax.

If PAN is available then TIN system will display the contents you have entered along with the “Name” appearing in the ITD database with respect the PAN entered by you.

Step 4

You can now verify the details entered by you. In case you have made a mistake in data entry, click on “EDIT” to correct the same. If all the detail and name as per ITD is correct, click on “SUBMIT” button. Nine digit alpha numeric ACK no. will be generated and you will be directed to the net-banking site provided by you.

Please be informed that the name and status of PAN is as per the ITD PAN Master. You are required to verify the name before making payment. In case any discrepancy is observed, please confirm the PAN entered by you. Any change required in the name displayed as per the PAN Master can be updated by filling up the relevant change request forms for PAN. If the name is correct, then click on "Confirm"

Step 5

After confirmation an option will be provided for submitting to Bank. On clicking on Submit to Bank deductor will have to login to the net-banking site with the user ID/ password provided by the bank for net-banking purpose and enter payment details at the bank site.

On successful payment a challan counterfoil will be displayed containing CIN, payment details and bank name through which e-payment has been made. This counterfoil is proof of payment being made.

To avail this facility the taxpayer is required to have a net-banking account with any of the Authorized Banks. List of Authorized Banks is available at the TIN website in the link

TIN system will direct you to net-banking facility of your bank. You will have to log on to the net banking site of your bank using your login ID and password/PIN provided by the bank. The particulars entered by you at TIN website will be displayed again.

You will now be required to enter the amount of tax you intend to pay and also select your bank account number from where you intend to pay the tax. After verifying the correctness, you can proceed with confirming the payment.

Your bank will process the transaction online by debiting the bank account indicated by you and generate a printable acknowledgment indicating the Challan Identification Number (CIN). You can verify the status of the challan in the “Challan Status Inquiry” at NSDL e-Gov-TIN website using CIN after a week, after making payment.

You will have to check the net-banking webpage of your bank’s website for this information.

Your Bank provides facility for re-generation of electronic challan counterfoil kindly check the Bank website, if not then you should contact your bank request them for duplicate challan counterfoil.

If any problem encountered while entering the financial details at the net-banking webpage of your bank, then you should contact your bank for assistance.

Payment of tds subsequently

Using this facility deductor (Buyer) can furnish the details online and make the payment of taxes subsequently either through net-banking account or by visiting any of the authorized bank branches. Following are the steps to avail this facility

Step 1

  1. Log on to NSDL e-Gov -TIN website (www.tin-nsdl.com).
  2. Click on the option “Furnish TDS on property”.
  3. Select Form for Payment of TDS on purchase of Property.

Step 2

After selecting the form you will be directed to the screen for entering certain information.

Example:-

    a) Permanent Account Number (PAN) of Property Purchaser and Seller.
    b) Address of the Purchaser, Seller as well as the Property being purchased
    c) Financial/ Assessment Year will be populated on the basis of Date of Payment/Credit selected in the Form.
    d) Major Head Code - To indicate the type of tax applicable viz; Tax on companies/Tax on other than companies
    e) Value of Property
    f) Date of agreement/booking
    g) Amount Paid/credited (Transaction amount)
    h) Rate of TDS
    i) TDS Amount
    j) Dates of payment/credit, deduction
    k) Select the option for “Payment of taxes on Subsequent Date”

It is important to ensure that PAN of Buyer and Seller are correctly mentioned in the form. There is no online mechanism for subsequent rectification. Deductor will have to approach the Assessing Officer or CPC-TDS for rectification of errors.

Step 3

After entering all the above detail, click on PROCEED button. The system will check the validity of PAN. In case PAN is not available in the database of the Income Tax Department then you cannot proceed with the payment of tax.

If PAN is available then TIN system will display the contents you have entered along with the “Name” appearing in the ITD database with respect the PAN entered by you.

Step 4

You can now verify the details entered by you. In case you have made a mistake in data entry, click on "EDIT" to correct the same. If all the detail and name as per ITD is correct, click on "SUBMIT" button. Nine digit alpha numeric ACK no. will be generated and you will be provided with an option to print an Acknowledgment slip.

Please be informed that the name and status of PAN is as per the ITD PAN Master. You are required to verify the name before making payment. In case any discrepancy is observed, please confirm the PAN entered by you. Any change required in the name displayed as per the PAN Master can be updated by filling up the relevant change request forms for PAN. If the name is correct, then click on "Confirm".

Step 5

With the printout of the Acknowledgment slip, you may visit any of the authorized Bank branches to make the payment of TDS subsequently. The Bank will make the payment through its net banking facility and provide you the Challan counterfoil as acknowledgment for payment of taxes. Based on the information in the Acknowledgment slip, the bank will make the payment only through net-banking facility by visiting tin-nsdl.com and entering the acknowledgement number duly generated by TIN for the statement already filled by the buyer in respect of that transaction.

In case you desire to make the payment through e-tax payment (net banking account) subsequently, you may access the link “E-tax on subsequent date” on the TIN website. On entering the details as per the acknowledgment slip, you will be provided an option to submit to the bank wherein you have to select the Bank through which you desire to make the payment. You will be taken to the net banking login screen wherein you can make the payment online.

You may access the access the link “E-tax on subsequent date” on the TIN website. On entering the details as per the acknowledgment slip, you will be provided options to Print the Acknowledgment Slip.

In case you desire to make an online payment, on the same screen option for Submit to the bank is provided wherein you have to select the Bank for payment. You will be taken to the net-banking login screen wherein you can make the payment online.

बिल वित्त २०१३ में यह प्रस्तावित है कि ५० लाख या इससे अधिक मूल्य की अचल संपत्ति (ग्रामीण कृषि भूमि को छोड़कर) का खरीदार को देय राशि में से १% की दर से विथहोल्डिंग टैक्स निवासी अंतरणकर्ता (ट्रान्सफरर) को भुगतान करे.

स्रोत पर कर की कटौती से संबन्धित नियमों के अनुसार, संपत्ति के क्रेता को टीडीएस काटना और उसे सरकारी खजाने में जमा करना होगा.

संपत्ति के क्रेता या खरीदार को कर कटौती संख्या (टैन) प्राप्त करने की आवश्यकता नहीं है. क्रेता को अपना पैन और विक्रेता का पैन उद्धृत करना होता है.

विक्रेता का पैन अनिवार्य है. लेन-देन करने से पूर्व उसे विक्रेता से प्राप्त किया जाना चाहिए.

संपत्ति के क्रेता (कटौतीकर्ता) को टिन वेबसाइट पर लेन-देन के बारे में जानकारी ऑनलाइन प्रस्तुत करनी है. लेन-देन के ब्योरे सफलतापूर्वक प्रस्तुत करने के बाद कटौतीकर्ता-

  • या तो तुरंत ऑनलाइन (ई-टैक्स भुगतान विकल्प के माध्यम से) भुगतान कर सकता है ;
  • या ई-टैक्स भुगतान विकल्प के माध्यम से या प्राधिकृत बैंक की किसी शाखा में जाकर बाद में भुगतान कर सकता है. तथापि बैंक की ऐसी शाखाएँ किसी चालान के डिजिटीकरण के बिना ई-भुगतान करेंगी. बैंक को www.tin-nsdl.comपर भरे गए ऑनलाइन फॉर्म से चालान के ब्योरे प्राप्त होंगे.

यदि ऑनलाइन फॉर्म में ब्योरे भरते समय एनएसडीएल की वेबसाइट पर कोई समस्या आए तो कृपया फोन ०२०- २७२१८०८० पर टिन काल सेंटर से संपर्क करें या हमें लिखें (कृपया प्रत्यक्ष कर के ऑनलाइन भुगतान के रूप में मेल का विषय सूचित करें).

संपत्ति पर टीडीएस के बारे में सूचना प्रस्तुत करने के लिए टिन वेबसाइट पर उपलब्ध फॉर्म को फॉर्म २६क्यूबी कहा जाता है.

  • क) प्रस्तुत फॉर्म २६ क्यूबी के लिए पावती नंबर कटौतीकर्ता (अर्थात संपत्ति के खरीदार/क्रेता के फॉर्म २६ एएस (वार्षिक कर विवरण) में उपलब्ध है. उसे ट्रेसेज (TRACES) की वेबसाइट (www.tdscpc.gov.in) से देखा जा सकता है.
  • ख) करदाता टिन वेबसाइट पर प्रदर्शित ‘View Acknowledgement’ विकल्प पर भी क्लिक कर सकते हैं. करदाता को पावती नंबर को रिट्रीव करने के लिए क्रेता तथा विक्रेता का पैन, कुल भुगतान और कर-निर्धारण वर्ष (जैसा कि फॉर्म २६ क्यूबी दाखिल करते समय उल्लिखित किया गया है) एंटर करना होगा.

फॉर्म १६ बी कटौतीकर्ता (संपत्ति के क्रेता) द्वारा डिडक्टी को काटे गए और सरकारी खाते में जमा किए गए टैक्स के संबंध में जारी किया गया टीडीएस प्रमाणपत्र है.

फॉर्म १६बी टीडीएस (सीपीसी-टीडीएस) के केंद्रीकृत प्रोसेसिंग कक्ष की वेबसाइट (www.tdscpc.gov.in) से डाउनलोड के लिए उपलब्ध होगी.

उदाहरण के लिए, यदि बेची गई संपत्ति की राशि ७० लाख रुपये है, क्या टीडीएस की गणना २० लाख रुपये पर या ७० लाख रुपये पर की जाएगी?

टीडीएस विक्रेता को भुगतान की गई / जमा की गई राशि पर काटा जाना है. उपर्युक्त उदाहरण में कटौती पूरी राशि यानि ७० लाख रुपये पर होगी.

क्रेता ई-भुगतान सुगम बनाने के लिए प्राधिकृत बैंक की किसी भी शाखा से संपर्क कर सकते हैं.

बाद की तारीख में करों के ई-भुगतान को फॉर्म २६क्यूबी दाखिल करते समय उत्पन्न हुई पावती नंबर के आधार पर फॉर्म २६क्यूबी से संबद्ध किया जाएगा.

ऑनलाइन विवरण- सह- चालान फॉर्म / फॉर्म २६क्यूबी संबन्धित हिस्से के लिए विशिष्ट क्रेता – विक्रेता समूहन के लिए हरेक क्रेता द्वारा भरा जाना चाहिए. उदाहरण के लिए, एक क्रेता तथा दो विक्रेताओं के मामले में, दो फॉर्म भरने होंगे और दो क्रेताओं तथा एक विक्रेता के मामले में, संबन्धित संपत्ति के हिस्से के लिए चार फॉर्म भरने होंगे.

ई-टैक्स भुगतान विकल्प के माध्यम से तुरंत भुगतान

ई-भुगतान करदाताओं द्वारा टैक्स का ऑनलाइन भुगतान सुगम बनाता है. इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए करदाता को किसी प्राधिकृत बैंक के पास नेट- बैंकिंग खाता रखना चाहिए. कृपया टैक्स का ऑनलाइन भुगतान करने के लिए निम्नलिखित चरणों का अनुसरण करें:

चरण १

क) एनएसडीएल – टिन वेबसाइट( www.tin-nsdl.com) क) को लॉगऑन करें

ख) “Furnish TDS on property” विकल्प पर क्लिक करें.

ग) संपत्ति की खरीद पर टीडीएस के भुगतान हेतु फॉर्म को सिलेक्ट करें.

चरण २

फॉर्म सिलेक्ट करने के बाद आपको कुछ सूचना एंटर करने के लिए स्क्रीन की ओर निर्देशित किया जाएगा.

उदाहरण :

क) संपत्ति के क्रेता और विक्रेता का पैन

ख) क्रेता, विक्रेता और खरीदी जा रही संपत्ति का पता

ग) वित्तीय वर्ष जिसके दौरान क्रय किया गया है

घ) प्रमुख शीर्ष कोड – लागू कर का प्रकार सूचित करने के लिए, जैसे कंपनियों पर कर / कंपनियों से भिन्न पर कर

ङ) संपत्ति का मूल्य

च) करार / बुकिंग की तारीख

छ) प्रदत्त / जमा की गई राशि (लेन-देन राशि)

ज) टीडीएस की दर

झ) टीडीएस राशि

ञ) भुगतान / जमा, कटौती की तारीखें

ट) “Payment of Taxes on Subsequent Date” के लिए विकल्प चुनें.

चरण ३

उपर्युक्त सभी विवरण एंटर करने के बाद PROCEED बटन पर क्लिक करें. सिस्टम पैन की वैधता की जांच करेगा. यदि आयकर विभाग के डेटाबेस में पैन उपलब्ध नहीं है तो कर के भुगतान के लिए आगे नहीं बढ़ सकेंगे.

चरण ४

अब आप स्वयं द्वारा भरे गए विवरण का सत्यापन कर सकते हैं. यदि डेटा एंट्री में आपके द्वारा कोई गलती हो गई हो तो उसे ठीक करने के लिए “EDIT” पर क्लिक करें. यदि सभी ब्योरे और आईटीडी के अनुसार नाम सही हैं तो “सबमिट” बटन पर क्लिक करें. नौ अंकीय अल्फा न्यूमेरिक पावती नंबर जनरेट होगा और आपको आपके द्वारा प्रदान की गई नेट बैंकिंग साइट की ओर ले जाया जाएगा.

कृपया यह देख लें कि पैन का नाम और स्थिति आईटीडी पैन मास्टर के अनुसार है. भुगतान करने से पूर्व आपको नाम का सत्यापन करना होगा. यदि कोई विसंगति पाई जाती है तो कृपया एंटर किए गए पैन की पुष्टि करें. पैन मास्टर में प्रदर्शित नाम के अनुसार नाम में कोई परिवर्तन अपेक्षित हो तो उसे पैन के लिए संबन्धित परिवर्तन अनुरोध फॉर्म भरकर अपडेट किया जा सकता है. यदि नाम सही है तो “कनफर्म” पर क्लिक करें.

चरण ५

पुष्टि के बाद बैंक को प्रस्तुत करने के लिए एक विकल्प दिया जाएगा. बैंक को सबमिट करने के बटन पर क्लिक करने के बाद, कटौतीकर्ता को नेट बैंकिंग प्रयोजन के लिए बैंक द्वारा दिये गए यूजर आईडी /पासवर्ड से नेट बैंकिंग साइट को लॉगइन करना होगा और बैंक साइट पर भुगतान के ब्योरे एंटर करने होंगे.

सफलतापूर्वक भुगतान हो जाने पर एक चालान काउंटरफाइल प्रदर्शित होगा जिसमें सीआईएन, भुगतान विवरण और बैंक का नाम, जिसके माध्यम से ई-भुगतान किया गया है, उल्लिखित होंगे. यह काउंटरफाइल किए गए भुगतान का प्रमाण है.

इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए करदाता के पास किसी भी प्राधिकृत बैंक में नेट बैंकिंग खाता होना चाहिए. प्राधिकृत बैंकों की सूची टिन वेबसाइट पर उपलब्ध है.

इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए करदाता के पास किसी भी प्राधिकृत बैंक में नेट बैंकिंग खाता होना चाहिए. प्राधिकृत बैंकों की सूची टिन वेबसाइट पर उपलब्ध है.

सिस्टम आपको आपके बैंक की नेट बैंकिंग सुविधा की ओर निर्देशित करेगा. आपको बैंक द्वारा प्रदान किए गए अपने लॉगइन आईडी और पासवर्ड /पिन का प्रयोग करते हुए अपने बैंक की नेट बैंकिंग साइट को लॉग ऑन करना होगा. टिन वेबसाइट में आपके द्वारा एंटर किए गए विवरण पुनः प्रदर्शित होंगे.

अब आपको टैक्स के भुगतान के लिए अपेक्षित राशि एंटर करनी होगी और अपना बैंक खाता नंबर सिलेक्ट करना होगा जिससे आप टैक्स का भुगतान करना चाहते हैं. परिशुद्धता का सत्यापन करने के बाद आप भुगतान की पुष्टि करने के लिए आगे बढ़ सकते हैं.

आपका बैंक आपके द्वारा सूचित बैंक खाते को नामे डालकर ट्रांजेक्शन को ऑनलाइन प्रोसेस करेगा और चालान पहचान नंबर (सीआईएन) सूचित करते हुए एक प्रिंट-योग्य पावती जनरेट करेगा॰ आप भुगतान करने के एक सप्ताह बाद सीआईएन का प्रयोग करते हुए एनएसडीएल टिन वेबसाइट पर ‘Challan Status Inquiry’ में चालान की स्थिति का सत्यापन कर सकते हैं.

इस जानकारी के लिए आपको अपने बैंक की वेबसाइट के नेट बैंकिंग वेबपेज को देखना होगा.

आपका बैंक इलेक्ट्रॉनिक चालान काउंटरफाइल पुनः जनरेट करने की सुविधा प्रदान करता है. कृपया बैंक की वेबसाइट चेक करें. यदि नहीं तो आप अपने बैंक से संपर्क करें और डुप्लीकेट चालान काउंटरफाइल के लिए अनुरोध करें.

यदि आपके बैंक के नेट बैंकिंग वेबपेज पर वित्तीय विवरण एंटर करते समय कोई समस्या आती है तो आपको सहायता के लिए अपने बैंक से संपर्क करना चाहिए.

बाद में टीडीएस का भुगतान

इस सुविधा का उपयोग करते हुए कटौतीकर्ता (क्रेता) विवरण ऑनलाइन प्रस्तुत कर सकता है और कर का भुगतान बाद में या तो नेट बैंकिंग खाते के माध्यम से या प्राधिकृत बैंक की किसी शाखा के माध्यम से कर सकता है. इस सुविधा का उपयोग करने के चरण निम्नलिखित हैं:

इस सुविधा का उपयोग करते हुए कटौतीकर्ता (क्रेता) विवरण ऑनलाइन प्रस्तुत कर सकता है और कर का भुगतान बाद में या तो नेट बैंकिंग खाते के माध्यम से या प्राधिकृत बैंक की किसी शाखा के माध्यम से कर सकता है. इस सुविधा का उपयोग करने के चरण निम्नलिखित हैं:

चरण १

क) एनएसडीएल – टिन वेबसाइट ( www.tin-nsdl.com) को लॉग ऑन करें

ख) “Furnish TDS on property” विकल्प पर क्लिक करें.

ग) संपत्ति की खरीद पर टीडीएस के भुगतान हेतु फॉर्म को सिलेक्ट करें.

चरण २

फॉर्म सिलेक्ट करने के बाद आपको कुछ सूचना एंटर करने के लिए स्क्रीन की ओर निर्देशित किया जाएगा.

उदाहरण :

क) संपत्ति के क्रेता और विक्रेता का पैन

ख) क्रेता, विक्रेता और खरीदी जा रही संपत्ति का पता

ग) वित्तीय वर्ष जिसके दौरान क्रय किया गया है

घ) प्रमुख शीर्ष कोड – लागू कर का प्रकार सूचित करने के लिए, जैसे कंपनियों पर कर / कंपनियों से भिन्न पर कर

ङ) संपत्ति का मूल्य

च) करार / बुकिंग की तारीख

छ) प्रदत्त / जमा की गई राशि (लेन-देन राशि)

ज) टीडीएस की दर

झ) टीडीएस राशि

ञ) भुगतान / जमा, कटौती की तारीखें

ट) “Payment of Taxes on Subsequent Date” के लिए विकल्प चुनें.

चरण ३

उपर्युक्त सभी ब्योरे एंटर करने के बाद PROCEED बटन पर क्लिक करें. सिस्टम पैन की वैधता की जांच करेगा. यदि आयकर विभाग के डेटाबेस में पैन उपलब्ध नहीं है तो कर के भुगतान के लिए आगे नहीं बढ़ सकेंगे.

यदि पैन उपलब्ध है तो टिन सिस्टम आपके द्वारा एंटर किए गए पैन के संबंध में आयकर विभाग के डेटाबेस में दिखाई देने वाले “नाम” के साथ आपके द्वारा एंटर की गई विषय-वस्तु प्रदर्शित करेगा.

चरण ४

अब आप स्वयं द्वारा भरे गए ब्योरों का सत्यापन कर सकते हैं. यदि डेटा एंट्री में आपके द्वारा कोई गलती हो गई हो तो उसे ठीक करने के लिए “EDIT” पर क्लिक करें. यदि सभी ब्योरे और आईटीडी के अनुसार नाम सही हैं तो “सबमिट” बटन पर क्लिक करें. नौ अंकीय अल्फा न्यूमेरिक पावती नंबर जनरेट होगा और आपको आपके द्वारा प्रदान की गई नेट बैंकिंग साइट की ओर ले जाया जाएगा.

कृपया यह देख लें कि पैन का नाम और स्थिति आईटीडी पैन मास्टर के अनुसार है. भुगतान करने से पूर्व आपको नाम का सत्यापन करना होगा. यदि कोई विसंगति पाई जाती है तो कृपया एंटर किए गए पैन की पुष्टि करें. पैन मास्टर में प्रदर्शित नाम के अनुसार नाम में कोई परिवर्तन अपेक्षित हो तो उसे पैन के लिए संबन्धित परिवर्तन अनुरोध फॉर्म भरकर अपडेट किया जा सकता है. यदि नाम सही है तो “कनफर्म” पर क्लिक करें.

चरण ५

पावती पर्ची का प्रिंट आउट लेकर आप बाद में टीडीएस का भुगतान करने के लिए किसी भी प्राधिकृत बैंक शाखा में जा सकते हैं. बैंक नेट बैंकिंग सुविधा के माध्यम से भुगतान करेगा और करों के भुगतान के लिए पावती के रूप में आपको चालान का काउंटरफाइल देगा. पावती पर्ची में सूचना के आधार पर बैंक tin-nsdl.com पर जाकर और उस ट्रांजेक्शन के संबंध में क्रेता द्वारा पहले ही भरे गए विवरण के लिए टिन द्वारा विधिवत जनरेट की गई पावती नंबर एंटर करके केवल नेट बैंकिंग सुविधा के माध्यम से भुगतान करेगा.

यदि आप बाद में ई-टैक्स भुगतान (नेट बैंकिंग खाता) के माध्यम से भुगतान करना चाहते हैं, आप टिन वेबसाइट पर “View/Payment of TDS on Property” लिंक को एक्सेस कर सकते हैं. पावती पर्ची के अनुसार विवरण एंटर करने पर आपको बैंक को सबमिट करने के लिए एक विकल्प दिया जाएगा जिसमें आपको उस बैंक को चुनना होगा जिसके माध्यम से आप भुगतान करना चाहते हैं. आपको नेट बैंकिंग लॉगइन स्क्रीन ले जाया जाएगा जिसमें आप ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं.

आप टिन वेबसाइट पर “View/Payment of TDS on Property” एक्सेस लिंक को एक्सेस कर सकते हैं. पावती पर्ची के अनुसार विवरण एंटर करने पर आपको पावती पर्ची प्रिंट करने के लिए एक विकल्प दिया जाएगा.

यदि आप ऑनलाइन भुगतान करना चाहते हैं, उसी स्क्रीन पर आपको बैंक को सबमिट करने के लिए एक विकल्प दिया जाएगा जिसमें आपको भुगतान के लिए बैंक चुनना होगा आपको नेट बैंकिंग लॉगइन स्क्रीन ले जाया जाएगा जिसमें आप ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं.

संपत्ति पर कर / प्रस्‍तावना

2013 के वित्‍त बिल के अनुसार, जहां अचल संपत्ति की बिक्री की राशि रु.50,00,000 (पचास लाख रुपये) से अधिक या उसके बराबर हो वहां अचल संपत्ति की बिक्री पर टीडीएस लागू होगा. आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 194 आईए में यह उल्‍लेख है कि 1 जून 2013 से सभी लेन-देनों (ट्रांजेक्‍शनों) के मामले में संपत्ति के खरीदार को बिक्री राशि का भुगतान करते समय 1% की दर से टैक्‍स काटना चाहिए. इस प्रकार काटा गया टैक्‍स किसी भी प्राधिकृत बैंक की शाखा के माध्‍यम से सरकारी खाते में जमा किया जाना चाहिए.

अचल संपत्ति के बिक्री सौदे और उस पर टीडीएस के भुगतान के बारे में जानकारी प्रस्‍तुत करने की सुविधा इस वेबसाइट पर उपलब्‍ध है. विस्‍तृत प्रक्रिया, प्रयोक्‍ता अनुकूल ई-ट्यूटोरियल, टीडीएस स्‍वीकार करने के लिए प्राधिकृत बैंक शाखाओं की सूची और अक्‍सर पूछे जाने वाले प्रश्‍न (एफएक्‍यूज़) संदर्भ हेतु इस वेबसाइट पर उपलब्‍ध हैं.

1. बिक्री आय में से 1% की दर से टैक्‍स काटें.
2. विक्रेता का स्‍थायी खाता नंबर (पैन) प्राप्‍त करें और मूल पैन कार्ड से उसका सत्‍यापन करें.
3. बिक्री सौदे के बारे में सूचना प्रस्तुेत करने के लिए ऑनलाइन फॉर्म में विक्रेता और क्रेता के पैन का अनिवार्य रूप से उल्लेपख किया जाना चाहिए.